Hamane Kaee Dafa Khud Theek Mahasoos Karane Ke Life Shayari,


 हमने कई दफ़ा खुद ठीक महसूस करने के लिए..

उनसे उनकी तबियत पूछी है..❤️



तड़प कर गुजर जाती है हर रात आखिर,

कोई याद ना करें तो क्या, सुबह नहीं होती!



बहुत पाने की चाहत मे बहुत कुछ छूट जाता है,

कोई शीशा या पत्थर हो हमेशा टूट जाता है,

करुँ कोशिश हजारो मै हजारो को मनाने की,

एक तो मान जाता है दूसरा रूठ जाता है…….




ग़ज़ल और शायरी की बात तो हम रोज करतें हैं…

जरा नज़दीक आओ आज दिल की बात करतें हैं ।



उनके लाख मुरीद ही सही, हमें क्या गम,

गर वो मेरा मुरीद, तो मसला ही ख़तम….!



नशा मोहब्बत का हो तो कमाल होता है जनाब,

पर नशा एक की मोहब्बत का हो तो बवाल होता है..!



गुलाब लाने से धनिया लाने तक 

का सफर करना है तुम्हारे साथ ।



होती है महसूस तेरी मौजूदगी हर पल,

तू हर वक्त मुझमें शुमार सा है,


मेरे खुदा ने मुझको बख्शी हैं जितनी सांसें,

उन सांसों का तू भी हिस्सेदार सा है।




ख़ैरात में नहीं मिली 

मुझको ये मुफ़लिसी

ये आवारगी, ये बेबाक लहज़ा,


बड़ी मशक्क़त की है

मैने, ख़ुद को 

इतना बरबाद करने के लिये….!!



गहरे एहसास में जब, लफ़्ज़-ए-मुहब्बत घोलते हो… 

सुकून मिलता है सुनकर, जब तुम बोलते हो।।




वो जो रोज़ ख्वाबों में आते हैं,

भोर होते ही ना जाने कहाँ खो जाते हैं ।




जो गुजर चुका है उसे मुड़कर कभी मत देखो..

वरना जो आगे मिलने वाला है उसे भी खो दोगे..!

Leave a Comment